लेखक: Dr. Damanjit Duggal

दमनजीत दुग्गल पच्चीस से अधिक वर्षों के अनुभव के साथ एक चिकित्सक और गंभीर देखभाल विशेषज्ञ हैं। वह बेसिक लाइफ सपोर्ट और एडवांस कार्डियक लाइफ सपोर्ट की इंस्ट्रक्टर हैं। वह IDCCM और रेस्पिरेटरी मेडिसिन की योग्य शिक्षिका हैं। उन्होंने बीएम बिड़ला हार्ट रिसर्च सेंटर कोलकाता, श्री रामचंद्र मेडिकल कॉलेज चेन्नई और रूबी हॉल क्लिनिक पुणे की गहन देखभाल इकाई का नेतृत्व किया। उन्हें श्री अरबिंदो सेवा केंद्र कोलकाता में आईसीयू स्थापित करने का सम्मान मिला है। दमनजीत वर्तमान में रूबी हॉल और सह्याद्री अस्पताल पुणे में मेडिसिन और क्रिटिकल केयर में सलाहकार के रूप में कार्यरत हैं।

शिक्षा

  • एमबीबीएस, बीजे मेडिकल कॉलेज, पुणे, 1985
  • एमडी (रेस्पिरेटरी मेड), बीजे मेडिकल कॉलेज, पुणे, 1989
  • आईडीसीसीएम (क्रिटिकल केयर), बीजे मेडिकल कॉलेज, पुणे, 2008

अनुभव

  • 2011 से वर्तमान तक, सलाहकार चिकित्सा (पल्मोनोलॉजी, कार्डियोलॉजी, मधुमेह) और गंभीर देखभाल, रूबी हॉल और सहयाद्री अस्पताल पुणे
  • अप्रैल 1996 - 2011, रूबी हॉल, पुणे के प्रभारी सलाहकार आईसीसीयू/आईसीयू
  • 31 जुलाई 1995 - 22 फरवरी 1996, श्री रामचंद्र मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, मद्रास के कार्डियोलॉजी विभाग में कार्यरत जनरल मेडिसिन के सहायक प्रोफेसर
  • 16 फरवरी 1995 से 26 अप्रैल 1995, रेजिडेंट कार्डियोलॉजिस्ट और श्री अरबिंदो सेवा केंद्र, कोलकाता में आईसीसीयू/आईसीयू प्रभारी
  • 01 अगस्त1993 से 09 फरवरी1995, रजिस्ट्रार कार्डियोलॉजी, बीएम बिड़ला हार्ट रिसर्च सेंटर, कोलकाता
  • 25 जनवरी 1990 से 17 अप्रैल 1992, वरिष्ठ रजिस्ट्रार आईसीसीयू/आईसीयू रूबी हॉल, पुणे

खतरनाक शुगर लेवल: यहाँ जानें कैसे इसे नियंत्रित करें

ब्लड शुगर असंतुलित होकर खतरनाक रूप ले सकता है। शुगर बहुत कम हो जाए तो दिमाग को ऊर्जा नहीं मिल पाती, कमजोरी, कंपन और बेहोशी आ सकती है। वहीं, ज्यादा बढ़ जाए तो शरीर कोशिकाओं में शुगर ठीक से प्रवेश नहीं कर पाता, जिससे मुंह सूखना, पेशाब बार-बार आना, वजन कम होना जैसे लक्षण दिखते हैं। …

इन्सुलिन के साइड इफेक्ट्स : Insulin Side Effects in Hindi

इन्सुलिन एक ऐसा हार्मोन है जो शुगर के मरीजों के लिए बहुत ही जरूरी होता है, ब्लड शुगर लेवल को सही बनाए रखने में मदद करता है। शुगर की समस्या की वजह से जब शरीर में पर्याप्त मात्रा में इन्सुलिन नही बन पाता तो शुगर के मरीजों को इसे बाहर से लेने की जरूरत होती है। …

शुगर में उड़द की दाल खा सकते हैं- Kya Diabetes Mei Urad Dal Khani Chaheye

दाल उत्तर भारत के हर घर में रोज बनाये जाने वाले भोजन का अहम हिस्सा है। यह हर घर में लोगों का पसंदीदा है, विशेष रूप से पंजाबी व्यंजनों और दक्षिण भारतीय रसोई में भी बनाया जाता है। उड़द दाल सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली दालों में से एक है। क्लासिक दाल चावल से लेकर …

डायबिटीज का परमानेंट इलाज क्या है? जानिए क्या शुगर को हमेशा के लिए ठीक हो सकता है

टाइप-2 डायबिटीज के बढ़ते मामलों ने इसे मैनेज करने और संभावित तौर पर खत्म करने में लोगों की दिलचस्पी बढ़ा दी है। पहले इसे एक ऐसी बीमारी माना जाता था जिसका इलाज नहीं है और जो जीवन भर रहती है, लेकिन हाल की कई रिसर्च ने लाइफस्टाइल में बदलाव करके ब्लड शुगर को कंट्रोल करने और …

क्या शुगर में मटर खा सकते हैं? जानिए हरी मटर में शुगर की मात्रा – Matar in Diabetes in hindi

शुगर के मरीजों के लिए जरूरी है की वे अपने डाइट का विशेष ध्यान रखें जिससे उन्हें अपने ब्लड शुगर के लेवल को अचानक बढ़ने से रोकने में मदद मिल सके। शुगर के मरीजों को अपने डाइट में शामिल की गई चीजों का सावधानीपूर्वक मूल्यांकन करना चाहिए और ब्लड शुगर को कंट्रोल करने वाली चीजों को …

मधुमेह की वजह से त्वचा की समस्याओं, कारण, और बचाव के तरीके – Sugar me Khujli hona

जब किसी व्यक्ति को डायबिटीज हो तो त्वचा सम्बन्धी समस्याएं इसका संकेत देने का शुरुआती लक्षण हो सकता है। डायबिटीज का शरीर के लगभग हर अंग पर असर दिखाई देता है, जिसमें से त्वचा भी है। कई डायबिटीज से परेशान व्यक्तियों को कभी ना कभी डायबिटीज के कारण त्वचा संबंधी समस्यायों का सामना करना पड़ता है। …

loading..

फ्री डायबिटीज डाइट प्लान डाउनलोड करें

डाइट प्लान डाउनलोड करें